स्कूलों का कायाकल्प बना औपचारिकता
December 16, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

, बरेठी (बाराबंकी) : कायाकल्प के तहत स्कूलों में सिर्फ औपचारिकता निभाई जा रही है। प्रधान और सचिव कार्यों पर ध्यान नहीं दे रहे हैं, जिससे अधिकांश स्कूलों में कार्य अधूरे पड़े हैं। विद्यालयों में पड़ताल करती प्रस्तुत है रिपोर्ट:-

बंकी विकास खंड के पूर्व माध्यमिक विद्यालय खम्भरिया में मरम्मत कार्य बहुत धीमी गति से चल रहा था। विद्यालय की बाउंड्रीवाल निर्मित हो रही थी। रसोईघर न होने के कारण शिक्षण कक्ष में ही बच्चों के लिए खाना बनाया जाता है। शिक्षण कक्ष में तो प्लास्टर फर्श रंगाई-पुताई हो गई है, परंतु अभी इंटरलॉकिंग कार्य नहीं हो सका। हैंडपंप से पानी में बालू आ रहा है। शौचालय की स्थिति खराब है, जो निष्प्रयोज्य है।

पूर्व माध्यमिक विद्यालय बस्ती में मार्च के माह में मरम्मत कार्य हुआ था, परंतु कमरों में बरसात के समय पानी की बूंदे टपकने लगती हैं। शौचालय निष्प्रयोज्य हैं। प्रधानाचार्य शाहनाज बानो ने कहा कि कायाकल्प के लिए अधिकारी को सूचित कर दिए हैं, परंतु अभी तक कार्य शुरू नहीं हो सका।

प्राथमिक विद्यालय नूरपुर में भी कायाकल्प योजना अंतर्गत मरम्मत कार्य जारी है। यहां की स्थिति बहुत ज्यादा खराब दिखी। विद्यालय की बनी बाउंड्रीवाल गिर गई हैं, शौचालय में दरवाजे पल्ले व गंदगी के कारण बेकार है। रसोईघर जर्जर की स्थिति में है। भोजन बनाने के बाद रसोइयां बनाने के बर्तन गैस सिलेंडर प्रतिदिन अपने घर उठा ले जाती है। प्राथमिक विद्यालय माती में कायाकल्प योजना अंतर्गत मरम्मत कार्य जारी है।

बंकी ब्लॉक के पूर्व माध्यमिक विद्यालय खम्भरिया में जजर्र शौचालय ' जागरण

आंकड़ों पर एक नजर

 बंकी ब्लॉक में पूर्व माध्यमिक >> विद्यालय- >> 57

छात्र-छात्रओं की संख्या-6761

 प्राथमिक विद्यालय ->> 151

 छात्र-छात्रओं की संख्या-15348

समस्त विद्यालयों के प्रधानाध्यापक से विद्यालयों की यथास्थिति की रिपोर्ट मांगी है। जिनकी कायाकल्प के लिए खंड विकास अधिकारी बंकी को सूची उपलब्ध करा दी है।

-रुद्र प्रताप यादव, खंड शिक्षा अधिकारी, बंकी ब्लॉक।

सभी ग्राम पंचायत सचिवों को प्राथमिकता के आधार पर चयनित समस्त विद्यालयों को चरणबद्ध तरीके से कायाकल्प कराने के लिए निर्देश दिए हैं। तीन विद्यालय की स्थिति जर्जर होने के कारण उनका मरम्मतीकरण भी होना है।

रमेंद्र कुमार कुशवाहा, बीडीओ बंकी