सरकारी राशन बेचने पर कोटेदार गिरफ्तार
December 5, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

 बाराबंकी : जनता को वितरण के लिए आया सरकारी राशन कोटेदार ने बेच डाला और पुलिस पर दबाव बनाकर अनाज व रजिस्टर चोरी का मुकदमा दर्ज करा डाला। पुलिस ने विवेचना शुरू की तो चोरी कर रखा गया कुछ अनाज व गल्ला रजिस्टर बरामद कर लिए। इससे पूरा मामला ही सामने आ गया और मुकदमा दर्ज करने वाले कोटेदार ने स्वयं गिरफ्तारी दे दी, जिसे न्यायालय से जेल रवाना किया गया है।

मोहम्मदपुर खाला थानाध्यक्ष मनोज कुमार शर्मा ने बताया कि बैरानामऊ मजरे छावनी गांव निवासी रामवीर सिंह पुत्र स्व. दृगपाल सिंह गांव का कोटेदार था। उसे कार्डधारकों को गल्ला सप्लाई करने के लिए 34 बोरी चावल और 47 बोरी गेहूं मिले थे। इसमें से 28 बोरी चावल और 45 बोरी गेहूं और पिछले वर्षों के स्टाक रजिस्टर चोरी होने का कोटेदार ने मुकदमा मोहम्मदपुरखाला थाने में दर्ज कराया था। पुलिस ने विवेचना शुरू की मामला संदिग्ध प्रतीत हुआ। पुलिस को पता चला कि छह बोरी चावल और चार बोरी गेहूं प्रधान के घर पर रख दिया था। शेष बचे 28 बोरी चावल 45 बोरी गेहूं बेच लिया था। पुलिस ने प्रधान के घर में रखा सरकारी अनाज और अनाज बेचने से मिले धन में बचे हुए 6700 रुपये बरामद किए हैं। आरोपित कोटेदार को तीन दिसंबर की रात ग्राम बैरानामऊ से गिरफ्तार कर यह बरामदगी की गई है। एसओ ने बताया कि जो स्टॉक रजिस्टर चोरी होना बताया जा रहा था वह भी बरामद हुआ है। गिरफ्तारी में एसआइ हरीलाल यादव, बलकरन सिंह , सिपाही इन्द्रेश कुमार, मोनू सोलंकी शामिल थे।