संचारी रोग नियंत्रण अभियान की होगी मॉनीटरिंग
November 21, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

बाराबंकी : विशेष संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़ा के तहत बुधवार को लोकसभागार में बैठक हुई। इसमें संचारी रोगों की रोकथाम के लिए 30 नवंबर तक अभियान चलाए जाने के दिशा-निर्देश दिए गए।

बैठक की अध्यक्षता डीएम डॉ. आदर्श सिंह ने की। कहा, सभी विभागों को अपनी-अपनी कार्ययोजना बनाकर डेंगू एवं अन्य संचारी रोग नियंत्रण अभियान 30 नवंबर तक चलाया जाना है। यह अभियान नगरीय क्षेत्रों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों, जनपद स्तर, ब्लॉक स्तर, ग्राम स्तर पर चलाया जाएगा। इसके अतिरिक्त प्रत्येक शनिवार को अंतरविभागीय समीक्षा बैठक की जाएगी। कहा, सभी विभागों को नगरीय क्षेत्र की कार्ययोजना प्राप्त कर उसके अनुश्रवण के लिए जिम्मेदारी सुनिश्चित करने के लिए सीएमओ डॉ. रमेश चंद्र को इस संबंध में कार्ययोजना के साथ मॉनीटरिंग कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी जगहों पर एंटीलार्वा छिड़काव, अधिक घनत्व वाले क्षेत्रों में फा¨गग कराई जाए।

आम नागरिकों से अपने घरों के आसपास कूड़ा कचरा, खाली कप, थर्मोकोल के डिब्बे, प्लास्टिक कंटेनर, टायर, नारियल के खोल, गमले एवं जहां साफ पानी भरने की संभावना हो उनको खाली करने की अपील की जाए। सीएमओ डॉ. रमेश चंद्र, जिला चिकित्सालय के सीएमएस डॉ. एसके सिंह, जिला महिला चिकित्सालय की सीएमएस डॉ. आभा आशुतोष, डॉ. राजीव सिंह, डॉ. जेता सिंह, डॉ. महेंद्र सिंह आदि मौजूद रहे।

टास्क फोर्स की बैठक : डीएम की अध्यक्षता में नियमित टीकाकरण की जिला टास्क फोर्स की बैठक हुई। बैठक में बताया गया कि मिशन इंद्रधनुष दो दिसंबर से संपादित किया जाएगा। इस अभियान में 0 से दो वर्ष तक के सभी छूटे हुए बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को शत प्रतिशत प्रतिरक्षित किया जाना है।

आसपास न भरने दें गंदा पानी

संवादसूत्र, रामसनेहीघाट (बाराबंकी) : तहसील परिसर में उपजिलाधिकारी राजीव कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में नियमित टीकाकरण से संबंधित तहसील स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक हुई। इसमें एसडीएम ने संचारी रोग के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए अभियान चलाने को कहा। साथ ही घर के आसपास पानी न भरा रहने देने की सलाह दी।

बुखार आने पर सीधे सरकारी अस्पताल में जांच को कहा। बुखार न उतरने पर सीधे जिला अस्पताल में संपर्क करें। प्लेटलेट्स घटने के कारण डेंगू बुखार ही नहीं होते, अन्य बुखार से भी प्लेटलेट्स घट सकते हैं, इसलिए लोगों को सचेत करें कि प्लेटलेट्स घटने से चिंतित न हो और उसका समुचित इलाज करें।

इसमें तहसील के अंतर्गत सभी ब्लॉकों बनीकोडर, पूरेडलई, दरियाबाद के चिकित्साधीक्षक वल्र्ड, हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के मॉनिटर, खंड विकास अधिकारी, बाल विकास अधिकारी, खंड शिक्षा अधिकारी के साथ बैठक में चर्चा हुई। इसमें सीडीपीओ दरियाबाद अनूप तिवारी, अजीत सिंह आदि मौजूद रहे।

बैठक में 30 नवंबर तक अभियान चलाए जाने के दिए गए दिशा-निर्देश, नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों में एंटी लार्वा फॉगिंग की बनी योजना