सड़क खोदने वालों को ढूंढ़ नहीं पा रही पालिका
November 19, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

बाराबंकी : बिजली विभाग, जल निगम व निजी मोबाइल कंपनियों ने शहर की सूरत बिगाड़ दी है। वर्षों की मशक्कत के बाद जिन गलियों में इंटरलाकिंग लगी थी उसे खोदकर पाइप लाइन व केबल डालने के बाद ठेकेदार चले गए। इन उखड़ी सड़कों पर आवागमन तो मुश्किल है ही साथ ही उसकी मरम्मत की जिम्मेदारी भी लेने को कोई तैयार नहीं है।

विस्तारित क्षेत्रों में जल निगम की ओर से पिछले छह माह से शहर की उन सड़कों को उखाड़ा जा रहा है। जो हाल ही में बनवाई गई थी। लखपेड़ाबाग के सरस्वती विहार कॉलोनी, आनंद विहार, आवास विकास, बाल विहार सहित कई जगहों पर इंटरलॉकिंग को उखाड़ कर पाइप लाइन तो बिछाई गई लेकिन दोबारा इंटरलॉकिंग नहीं बिछाई गई। ऐसे में इन जर्जर सड़कों पर निकलना लोगों का दुश्वार हो गया है।

यह भी बिगाड़ रहे सड़कों की सूरत : बिजली विभाग ने शहर में भूमिगत लाइनों को बिछाने के चक्कर में विस्तारित व पुराने मुहल्लों में सड़क खोदकर लाइन तो बिछाई लेकिन, दोबारा उसे बनवाने में जिम्मेदारी नहीं निभाई। यही वजह है कि सड़क जर्जर होती गई। थोड़ी सी बारिश में लोगों का इन सड़कों पर चलना दुश्वार हो जाता है। रही सही कसर निजी मोबाइल कंपनी ने पूरी कर दी। अपनी लाइन बिछाने के चलते सड़कों को खोदकर जर्जर कर डाला।

लोगों में नाराजगी : आवास विकास निवासी शिक्षक अतुल दिवाकर का कहना है कि जो लोग सड़कें खोदवा रहे है उनकी जिम्मेदारी भी बनती है कि सड़क को बनवाए। लखपेड़ा बाग निवासी एके पांडेय का कहना है कि खोदी गई सड़कों की मरम्मत कराया जाना जरूरी है। पर जिम्मेदार इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। लक्ष्मणपुरी कॉलोनी निवासी मनोज जायसवाल का कहना है कि कम से कम जिम्मेदारों को अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए।

लखपेड़ाबाग में तार डालने के लिए खोदी जा रही सड़क 'जागरण

अधिशाषी अधिकारी बोले विभागों के अधिकारियों को लिखा गया पत्र इंटरलॉकिंग उखाड़कर बिछाई पाइप लाइन, नहीं बनाई गई सड़क

जल निगम के अधिकारियों से वार्ता हुई है। कहा भी है कि पाइप लाइन बिछाने के बाद सड़क बनवाएंगे। निजी मोबाइल कंपनी व बिजली विभाग के अधिकारियों को पत्र पहले लिखा जा चुका है।

वीरेंद्र कुमार श्रीवास्तव, अधिशाषी अधिकारी, नगर पालिका परिषद नवाबगंज, बाराबंकी