रोजगार सेवकों ने दी इस्तीफे की चेतावनी
November 29, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

खंड विकास अधिकारी पर उत्पीड़न का आरोप

 बाराबंकी : सिरौलीगौसपुर क्षेत्र के रोजगार सेवकों ने बीडीओ पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए इस्तीफे की चेतावनी दी है। आरोप लगाया कि बीडीओ मनरेगा के कार्यों को स्वीकृति न देकर रोजगार सेवकों के हितों की अनदेखी कर रहे हैं।

ग्राम रोजगार सेवक संगठन की ब्लॉक अध्यक्ष शकील अहमद की अध्यक्षता में हुई बैठक में खंड विकास अधिकारी की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए वक्ताओं ने कहा कि शासन एवं जिला स्तर से प्राप्त निर्देशों की ब्लॉक स्तर पर अवहेलना की जा रही है। 14वें वित्त को मनरेगा योजना में अभी तक अभिसरित नहीं किया गया, जिससे मनरेगा योजना की प्रगति काफी धीमी हो गई है। संगठन महामंत्री बीरबल वर्मा ने कहा कि यदि शीघ्र ही ग्राम रोजगार सेवकों के मानदेय का भुगतान एवं 14वें वित्त का मनरेगा में अभिसरण न किया गया तो मजबूर होकर रोजगार सेवक इस्तीफा दे देंगे। रोजगार सेवकों ने डीएम संबोधित ज्ञापन प्रभारी खंड विकास अधिकारी रत्नाकर त्रिपाठी को सौंपा। जिलाध्यक्ष आकाश त्रिपाठी, संगठन प्रभारी रमाकांत वर्मा, मुकेश कुमार, राम बिलास, अजय, दिलीप, प्रेमलता, शालिनी, रेखा मौर्या, सविता देवी, पुनीत कुमार आदि प्रमुख रहे। रामनगर में भी रोजगार सेवकों के उत्पीड़न का आरोप लगाया है।