रेप’ वाले बयान पर माफी मांगने से राहुल का इन्कार
December 14, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

नई दिल्ली : संसद के शीतकालीन सत्र का शुक्रवार को अंतिम दिन था। उम्मीद थी कि काम-काज शांतिपूर्ण तरीके से होगा। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। दोनों सदनों की कार्यवाही सुबह जैसे ही शुरू हुई, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के 'रेप इन इंडिया' के मसले पर संसद के अंदर मामला इतना भड़का कि शोर शराबे के बीच ही कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गई। भाजपा की ओर से जहां राहुल से माफी की मांग की गई वहीं कांग्रेस सांसद इतने उग्र थे कि लोकसभा अध्यक्ष के बयान के वक्त भी शांत नहीं हुए। इस हंगामे के बीच माफी मांगने से इन्कार कर दिया।

गुरुवार को राहुल गांधी ने कहा था कि 'मेक इन इंडिया नहीं बल्कि रेप इन इंडिया हो रहा है।' शुक्रवार को सदन की कार्यवाही शुरू होते ही दोनों सदनों में भाजपा सदस्यों ने इसका विरोध किया। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राहुल पर तीखा हमला करते हुए कहा 'क्या सदन में ऐसे भी लोग चुनकर आ सकते हैं, जो इस प्रकार के शब्दों का प्रयोग करते हैं? उन्हें इसके लिए पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए।' वहीं सदन के बाहर राहुल ने माफी मांगने से इन्कार करते हुए कहा- 'मैंने कहा कि यहां मेक इन इंडिया का नारा दिया जा रहा है। लेकिन रेप इन इंडिया हो रहा है।'

शालीनता से परहेज संपादकीय पेज।