पुलिस कमिश्नर लखनऊ  सुजीत पांडेय  के निर्देशानुसार डीसीपी पूर्वी चारू निगम के कुशल निर्देशन व एडीसीपी पूर्वी अमित कुमार के निकट पर्यवेक्षण में चिनहट पुलिस को मिली एक और सफलता
October 5, 2020 • बाराबंकी टाइम्स राम गोपाल

पुलिस कमिश्नर लखनऊ  सुजीत पांडेय  के निर्देशानुसार डीसीपी पूर्वी चारू निगम के कुशल निर्देशन व एडीसीपी पूर्वी अमित कुमार के निकट पर्यवेक्षण में चिनहट पुलिस को मिली एक और सफलता

सहायक पुलिस आयुक्त विभूति खंड स्वतंत्र कुमार सिंह के कुशल नेतृत्व में में इंस्पेक्टर चिनहट धनंजय कुमार पांडे की टीम को मिली बड़ी सफलता-

चेकिंग के दौरान अवैध शराब के दो कारोबारी चढ़े चिनहट पुलिस के हत्थे-

चिनहट पुलिस ने टेराखास क्रॉसिंग पर चेकिंग के दौरान विकास दुबे उर्फ अजय कुमार दुबे एवं आशुतोष पांडे उर्फ सोनू को गिरफ्तार किया-

पकड़े गए अभियुक्तों की निशानदेही पर जानकीपुरम थाना क्षेत्र के नहरिया रोड, मिर्जापुर, नई बस्ती जानकीपुरम विस्तार से बड़े पैमाने पर अपमिश्रित देसी शराब वह नकली शराब बनाने की सामग्री व उपकरण बरामद किए गए-

अभियुक्तों के पास से एक स्कॉर्पियो व एक स्कोडा कार भी बरामद हुई, चौंकाने वाली बात यह है कि स्कॉर्पियो में जो नंबर प्लेट लगी है उस नंबर से आरटीओ में कोई रजिस्ट्रेशन ही नहीं है तो वहीं स्कोडा कार प्रतापगढ़ आरटीओ में रजिस्टर्ड है-

आपको बता दें कि डीसीपी पूर्वी चारू निगम के कुशल निर्देशन में बीते दिनों भी लगभग 75 लाख रुपए की अवैध शराब बरामद की गई थी-

राजधानी लखनऊ में आज लगभग 25 लाख की पकड़ी गई इस अवैध शराब को मिलाकर एक करोड़ के आसपास की नकली और अवैध शराब पूर्वी क्षेत्र के अधिकारियों की कुशल कार्य योजना से बरामद की गई है लेकिन इस पर बड़ा सवाल यह है की नकली शराब का यह कारोबार जो कि इतने बड़े पैमाने में फल फूल रहा था उसमें कहीं ना कहीं आबकारी विभाग की संलिप्तता जरूर है, जो कहीं ना कहीं आबकारी विभाग पर भी बड़ा प्रश्न चिन्ह खड़ा कर रहा है क्योंकि जिस प्रकार से बीते साल जहरीली शराब से लखनऊ से सटे जनपद बाराबंकी में ही काफी संख्या में लोगों की मौत भी हुई थी लेकिन आबकारी विभाग उन मौतों के बावजूद आज तक कोई भी ठोस कदम नहीं उठा पाया है आज इतने बड़े पैमाने में बरामदगी कहीं ना कहीं आबकारी विभाग को कटघरे में खड़ा कर रहा है।।