पराली के नाम पर ठगी के प्रयास में पांच गिरफ्तार
December 15, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

 महमूदाबाद (सीतापुर) : सदरपुर थाना क्षेत्र के किसान के खेत में जल रहे झाड़-झंकाड़ का वीडियो बनाकर पराली के नाम पर धमकाने और ठगी के प्रयास का मामला सामने आया है।

किसान ने जिले पर आकर एडीएम से शिकायत की थी। जिस पर शनिवार सुबह ठगी का पैसा लेने पहुंचे पांच लोगों को एसडीएम और कोतवाली पुलिस ने जाल बिछाकर रामकुंड चौराहे से गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए लोगों ने पूछताछ में अपना नाम प्रभाकर उर्फ दीपू पुत्र रामदयाल निवासी बांसगांव जिला गोरखपुर, अशोक कुमार पुत्र लाल बहादुर निवासी रमपुरवा थाना इटौंजा लखनऊ, अजय कुमार पाठक पुत्र सच्चिदानंद पाठक निवासी तालकटोरा लखनऊ, सचिन यादव पुत्र राम जियावन यादव निवासी भवानीपुर लखनऊ, अनूप कुमार मिश्र पुत्र केपी मिश्र निवासी अमानीगंज कॉलोनी फैजाबाद को बताया है। सचिन यादव कृषि विभाग में संविदा पर ब्लॉक तकनीकी सहायक है, ये सदरपुर क्षेत्र में नियुक्त है। किशुनपुर गांव के किसान मयाराम वर्मा ने बताया कि, तीन दिन पूर्व उनके गन्ने के खेत की मेड़ पर झाड़-झंकाड़ जल रहा था। इसी बीच कुछ लोग गांव आए और वीडियो बना ले गए। फिर उनको फोन पर दीपू सिंह नाम के व्यक्ति ने खुद को अधिकारी बताते हुए पराली जलाने का जुर्माना 21,600 किया जाना बताया।

रंगे हाथ पकड़ा

पकड़े गए लोगों ने कबूल किया है कि वे दिल्ली की एक कंपनी में कर्मचारी हैं। गांवों में जाकर किसानों को जागरूक करते हैं। शनिवार सुबह रामकुंड चौराहे से आरोपितों को दबोचा गया है।

शनिवार दोपहर 12 बजे के दौरान रामकुंड चौराहे से रंगे हाथों दबोचे गए