नौ किसानों पर पराली जलाने पर मुकदमा दर्ज
December 5, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

 पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पराली जलाने के मामले अभी थम नहीं रहे हैं। मंगलवार को भी बागपत में पांच, शामली में तीन और बुलंदशहर के एक किसान पर पराली जलाने को लेकर मुकदमा दर्ज किया गया। वहीं शामली में पराली जलाने की घटनाएं अधिक होने के कारण जिलाधिकारी ने चार अफसरों को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण देने को कहा है।

बागपत के बिनौली थाने के इंस्पेक्टर रवेंद्र सिंह ने बताया कि बिनौली हलका लेखपाल रवि कुमार ने बिनौली गांव निवासी किरणपाल, जीतेंद्र व राममेहर, जिवाना गुलियान हलका लेखपाल मुकुल कुमार ने जिवाना गुलियान निवासी अर¨वद व लक्ष्मण के खिलाफ थाने पर मुकदमे दर्ज कराए हैं।

शामली के ¨झझाना थाने के कार्यवाहक प्रभारी रूपकिशोर शर्मा ने बताया कि हलका लेखपाल नरेश पाल ने लपराना गांव निवासी विनोद के खिलाफ, हलका लेखपाल अमरीश ने रंगाना गांव निवासी किसान सुरेशपाल के खिलाफ और हलका लेखपाल राजू गोयल ने करनाल निवासी सतवीर के खिलाफ पराली जलाने का मुकदमा दर्ज कराया है।

बुलंदशहर जिले के कृषि उपनिदेशक आरपी चौधरी ने दरियापुर गांव निवासी बदर खां के खिलाफ नगर कोतवाली में पराली जलाने के मामले में मुकदमा दर्ज कराया है।

चार अफसरों को नोटिस

शामली के जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने ऊन क्षेत्र में फसल अवशेष जलने के अधिक प्रकरण सामने आने पर एसडीएम ऊन, सीओ कैराना, थानाध्यक्ष व तहसीलदार से स्पष्टीकरण तलब किया है। डीएम ने बताया कि जिले में अब तक 25 घटनाओं में मुकदमा दर्ज करने व जुर्माने की कार्रवाई की गई है।

बागपत में पांच, शामली में तीन व बुलंदशहर में एक मामला दर्ज

शामली में ज्यादा मामले दर्ज होने पर चार अफसरों को नोटिस