कोटे की दुकान के चयन को लेकर गांव में बैठक
January 2, 2020 • बाराबंकी टाइम्स

बाराबंकी। कोटे की दुकान के चयन को लेकर गांव में बैठक के दौरान सोमवार को दो पक्ष भिड़ गए। दोनों पक्ष के लोगों ने एक-दूसरे पर ईंटों से हमला किया। इस दौरान फायरिंग किए जाने का भी आरोप है। इसके चलते बैठक कराने पहुंचे ब्लॉक कर्मी स्कूल के कमरों में जा छिपे। मारपीट व पथराव में दोनों पक्ष से सात लोग घायल हुए हैं। सूचना पर सीओ ने मौके का जायजा लिया। गांव में पुलिस बल की तैनाती की गई है। पुलिस के मुताबिक लोनीकटरा क्षेत्र के जरौली गांव में सोमवार को कोटे की दुकान के चयन करने को लेकर खुली बैठक बुलाई गई थी। दिन में 11 बजे एडीओ कोआपरेटिव विजय सिंह, सचिव प्रफुल्ल पटेल व पवन कुमार प्राथमिक विद्यालय में बैठक करा रहे थे। कोटे के दावेदार दीपक ने गुप्त मतदान से निर्णय कराने की मांग की। दूसरे पक्ष के दावेदार विवेक ने विरोध किया। इसके चलते विवाद हो गया। पुलिस की मौजूदगी दोनों पक्ष भिड़ गए और एक-दूसरे पर ईंट-पत्थर चलाने लगे। इससे भगदड़ मच गई। एडीओ व अन्य कर्मचारियों ने स्कूल के अंदर शरण लेकर खुद को बचाया। आरोप है कि पथराव के दौरान हवाई फायरिंग भी की गई। सूचना पर पुलिस बल के साथ सीओ उमाशंकर सिंह भी मौके पर पहुंचे और हालात को संभाला। पथराव में एक पक्ष के उमेश व धर्मराज और दूसरे पक्ष के रावेंद्र, बबलू, राजेश, अजय व रावले को चोटे आई है। पुलिस ने घायलों को सीएचसी त्रिवेदीगंज पहुंचाया। राजेश, रामेंद्र तथा प्रधान के पुत्र उमेश को जिला चिकित्सालय रेफर किया गया है। बीडीओ विनोद यादव ने बताया कि बैठक में कर्मचारी सुरक्षित हैं