कोरोनावायरस महामारी के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 20 लाख करोड़ का राहत पैकेज जैसे ही घोषित
May 16, 2020 • बाराबंकी टाइम्स

16 बाराबंकी 2020। वेटेरन्स इंडिया के राष्ट्रीय संयुक्त सचिव एवं प्रभारी उत्तर प्रदेश सूबेदार मेजर जयप्रकाश मिश्र ने बताया कि कोरोनावायरस महामारी के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 20 लाख करोड़ का राहत पैकेज जैसे ही घोषित किया, मजदूर व किसान को काफी उम्मीदें जगी लेकिन जैसे ही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी द्वारा पूरी जानकारी मिली वैसे ही मजदूर व किसानों के बीच मायूसी छा गया। आज मजदूर व किसान के लिए यह मात्र ऋण अनुदान बनकर रह गया। जहां छोटे किसान प्रकृति व कोरोना की मार को झेल रहे हैं वहीं किसानों की फसल की लागत तक नहीं निकल पाई है और जो कुछ भी निकला है उसका उचित कीमत नहीं मिल पा रहा। कर्ज में पहले से लदे हुए हैं जिसे कि देने में असमर्थ हैं । अपनी कर्ज माफी के लिए गुहार लगा रहे हैं वहीं पर यह दूसरा ऋण लेकर अपनी मौत का बुलावा नहीं देना चाहते । दूसरी तरफ गरीब मजदूर अपने कार्य को छोड़कर शहर से गांव के तरफ पैदल पलायन कर रहे हैं। उन्हें यह भी नहीं पता कि गांव जाकर उन्हें क्या मिलेगा। गांव में उनके लिए ना कोई रोजगार है और ना ही उनके पास कोई खेती है लेकिन उन्हें तो बस इतना पता है कि अपनी जान बचाकर गांव भागना है। ऐसे में सरकार से काफी उम्मीदें थी उन्हें लेकिन आज उन्हें मिला कुछ भी नहीं सिवाय मायूसी के ।