गो-संरक्षण में घोटाला, महराजगंज के डीएम समेत पांच अधिकारी निलंबित
October 15, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

मधवलिया गो-सदन में गड़बड़ी सामने आने के बाद योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निराश्रित गोवंश के संरक्षण में घोटाला पकड़े जाने पर बड़ी कार्रवाई की है। उन्होंने महराजगंज के जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय समेत पांच अधिकारियों को निलंबित करने के निर्देश दिए हैं।

सोमवार को लोकभवन में मुख्य सचिव आरके तिवारी ने बताया कि महराजगंज जिले की निचलौल तहसील के मधवलिया गो-सदन में निराश्रित गोवंश के रखरखाव में लापरवाही की लगातार शिकायतें मिल रही थी। इस पर शासन ने जांच के लिए अपर आयुक्त प्रशासनिक, गोरखपुर मंडल की अध्यक्षता में एक समिति गठित की। जांच में गोसदन में कई गंभीर अनियमितताएं पकड़ में आईं। तिवारी ने बताया कि गोवंश की संख्या में भी गोलमाल किया गया था। कागजों में कुल 2500 गोवंश होने की बात कही गई थी लेकिन मौके पर जांच के लिए पहुंची टीम को मात्र 954 गोवंश ही वहां मौजूद मिले। तिवारी ने बताया कि इसके अलावा गो- सदन की 500 एकड़ भूमि को अधिकारियों द्वारा गैरकानूनी ढंग से खुर्दबुर्द किया गया। गो-सदन संचालन के लिए वनविभाग की उक्त भूमि का कब्जा पशुपालन विभाग को दिया गया था। इसमें से करीब 328 एकड़ भूमि को किसानों, फर्म व अन्य व्यक्तियों को गैरकानूनी तरीके से अनुबंध करने का घोटाला भी पकड़ में आया। जांच के दौरान यह भी सामने आया कि चारे और गोवंश रखरखाव के नाम पर सरकारी धनराशि का दुरुपयोग किया गया है। गोवंश की संख्या अधिक दर्शाने की मंशा से भी वित्तीय अनियमितता सिद्ध हुई।

उन्होंने बताया कि जांच रिपोर्ट के आधार पर गो-सदन मधवलिया के अध्यक्ष और महराजगंज के जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय, गो-सदन समिति के नामित सदस्य व तत्कालीन उप जिलाधिकारी निचलौल देवेंद्र कुमार और वर्तमान उप जिलाधिकारी सत्यम मिश्र, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी महराजगंज डॉ. राजीव उपाध्याय व उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी निचलौल डा. वीके मौर्य को निलंबित करते हुए उनके खिलाफ अनुशासनिक जांच के निर्देश दिए है। मुख्य सचिव इस सवाल से बचते रहे कि शिकायत किसने और कब की।

विधायक की शिकायत पर कार्रवाई : गो-सदन में अनियमितता की शिकायत वहां के क्षेत्रीय विधायक प्रेम सागर पटेल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान की थी।

उचित कार्रवाई संपादकीय पेज।

'>>दो उपजिलाधिकारी, मुख्य व उपमुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी भी नपे

>>लगातार शिकायतें सामने आने के बाद कराई गई थी जांच

डा. उज्ज्वल महराजगंज के नए डीएम

महराजगंज के डीएम को हटाने के बाद शासन ने सोमवार को दो आइएएस अफसरों के कार्यक्षेत्र में फेरबदल किया है। प्रयागराज, नगर निगम के नगर आयुक्त डॉ. उज्ज्वल कुमार को महराजगंज के डीएम का दायित्व सौंपा गया है जबकि लखीमपुर खीरी के मुख्य विकास अधिकारी रवि रंजन को नगर आयुक्त, नगर निगम प्रयागराज के पद पर तैनाती दी गई है।