गांव की स्वच्छता के लिए युवाओं ने बढ़ाए कदम
December 16, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

 सतरिख (बाराबंकी) : युवा ही देश की तस्वीर बदल सकते हैं। हरख ब्लॉक क्षेत्र के गेंहदवर गांव के एक युवा ने स्वच्छता के लिए कदम बढ़ाए तो कारवां बन गया। 80 युवाओं ने एकजुट होकर गांव में स्वच्छता की मुहिम चला दी। यह गांव ब्लॉक क्षेत्र के अंतिम छोर पर स्थित है। गांव में चारों तरफ फैली गंदगी, जाम पड़ी नालियां, सड़कों पर बिखरा पड़ा कूड़ा, आवागमन वाले मुख्य मार्गों के किनारे लगे कूड़े के ढेर से यहां के निवासी युवा आशुतोष मौर्य के मन को जैसे झकझोर गए।

गांव के युवाओं ने मशविरा कर मेरा इंडिया कम्युनिटी मिशन के तहत गांव की तस्वीर बदलने का प्लान बना डाला। जिसमें संग्राम सिंह, रामलाल, राम शंकर यादव, नरेंद्र कुमार, अरुण कुमार, मोहित सिंह, अजीत कुमार, शुभम, ललित कुमार, दिलीप कुमार, राजकुमार, अमर बहादुर, रोहित कुमार, संगम, आकाश, देशराज सहित करीब 80 युवाओं ने आशुतोष के कदम से कदम मिलाया।

रविवार के दिन युवाओं की टीम गांव की गलियों में झाड़ू, फावड़ा, खुरपा, रिक्शा, ट्राली लेकर निकल पड़े कुछ लोग नालियों से कूड़ा निकालने में जुट गए। सड़कों पर झाड़ू लगने लगा। इकट्ठा हो रहा कूड़ा रिक्शा ट्रॉली पर लादकर गांव के बाहर गड्ढे में पहुंचाया जाने लगा। करीब 6 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद युवाओं ने गांव की बदसूरत तस्वीर बदल डाली। गलियां चमक उठी। जिन नालियों में घरों का गंदा पानी जमा था, वह तालाब और पोखर में जा पहुंचा। आशुतोष मौर्या का कहना है कि गांव की सफाई क्यों नहीं हो रही है। इस पर हमें किसी से शिकायत नहीं है।