DSWS संस्था द्वारा ग्रामीणों के साथ मनायी गयी गाँधी जयंती
October 2, 2020 • बाराबंकी टाइम्स राम गोपाल

 डी एस डब्ल्यू एस व कैरीटास इंण्डिया के सहयोग से चलाया जा रहे स्वरक्षा परियोजना के अन्तर्गत घुमनाभारु गांव में गांधी जयन्ती कार्यक्रम मनाया गया जिसमें गांव की महिलाओं व किशोरीयों को मानव तस्करी रोकथाम के बारे में व बालश्रम कोविड 19 को रोकने के बारे में जागरुक किया गया जिस अवसर पर संस्था एनिमेटर अंकित मिश्रा द्वारा गांधी जी के विचारों पर भी चर्चा की गई उन्होंने बताया सत्य, अहिंसा, ब्रहमचर्य, अस्तेय, अपरिग्रह, शरीर श्रम, आस्वाद, अभय, सर्वधर्म समानता, स्वदेशी और समावेशी समाज निर्माण की परिकल्पना ही उनका आदर्श रहा है. गांधी के आदर्श विचार उनके निजी तथा सामाजिक जीवन तक ही सीमित नहीं रहे साथ ही सदैव की हर परिस्थिति में व्यक्ति को अपना धैर्य नही खोना चाहिए। जीवन मे सदैव एक जैसा समय नही रहता है इसलिये अपने आप को विषमताओं से निपटने के लिए सदैव तैयार रहना चाहिए। साथ रंगनाथ दुबे द्वारा एस आई कोतवाली मुर्तिहा ने बच्चों को मानव तस्करी रोकथाम के बारे में जानकारी दी  गयी व बाल कल्याण पुलिस अधिकारी दिग्विजय नाथ दुबे के द्वारा गांव की समस्याओं को भी जाना गया जो गांव की किशोरियों द्वारा बताई गई
 गांव में कक्षा 08के बाद स्कूल नही है ,गांव में चिकित्सा सुविधा उपलब्ध नहीं है , गांव को पहुंचने के लिए जंगल का रास्ता बहुत खराब है ,गांव में भारतीय मोबाइल नेटवर्क नहीं है जिस कारण किसी से सम्पर्क व आनलाइन पढाई नहीं हो पा रही है जिसके समाधान हेतु अंकित मिश्र से सम्बंधित विभागों से मिलकर बात करने का सुझाव दिया जिस अवसर पर मुर्तिहा कोतवाली से महिला कांस्टेबल नीलम यादव, कांस्टेबल सुग्रीव यादव , अनीता आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता रंजना, रणविजय व गाँव की महिलाएं, किशोरियाँ व बच्चे उपस्थित रहे।