अवैध कब्जों से मुक्त होगी तालाबों की जमीन
December 5, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

सतरिख (बाराबंकी) : तालाबों की जमीनों से अवैध कब्जे हटाए जाएंगे। तहसील प्रशासन ने लेखपाल और कानूनगो को इसके स्पष्ट निर्देश दिए हैं। जिन गांव में अवैध कब्जे की शिकायतें मिल रही हैं, वहां विशेष अभियान चलेगा।

क्षेत्र के ग्राम पंचायत ब्लॉक दौलतपुर, बहलोलपुर, सहेलिया, चंदौली, टिकरा सहित कई अन्य ग्राम पंचायतों में तालाबों की जमीन पर अवैध कब्जा कर लिया गया है। इन जमीनों पर अवैध कब्जेदार फसलें तैयार कर रहे हैं। ग्राम पंचायत बलछठ में जान मोहम्मद और राजेश कुमार ने सीएम पोर्टल तथा जिलाधिकारी से शिकायत कर आरोप लगाया है कि पंचायत के कुछ लोगों ने अभिलेखों में दर्ज तालाब की जमीन पर कब्जा कर लिया है। ग्राम पंचायत बहलोलपुर में गांव के बीच स्थित एक प्राचीन तालाब को चारों तरफ से पाटकर उसका नामोनिशान मिटाया जा रहा है। दौलतपुर ग्राम पंचायत में तालाब की जमीन पर कुछ लोगों ने पक्के मकान बना लिए हैं। टिकरा पंचायत में तालाब की जमीन पर एक वर्ग विशेष के लोग खेती कर रहे हैं। सहेलियां ग्राम पंचायत में करीब छह बीघा तालाब की जमीन पर गांव के कुछ लोगों ने कब्जा कर रखा है। इस जमीन पर गेहूं की फसल तैयार की जा रही है।

तहसीलदार नवाबगंज विश्वमित्र सिंह ने बताया कि जिस गांव में भी तालाब की जमीन पर अवैध कब्जा किया गया है। उसे हर हाल में खाली कराया जाएगा। कानूनगो और लेखपालों को इसके स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं। पूर्व की तरह अभियान चलाकर कार्रवाई होगी।

बलछत गांव में तालाब की भूमि अवैध कब्जा कर फसल बोने के लिए की जोताई '