अर्जेन्ट मामलों की विडियो कान्फे्न्सिग के माध्यम से होगी सुनवाई
May 26, 2020 • बाराबंकी टाइम्स एस के सिंह

अर्जेन्ट मामलों की विडियो कान्फे्न्सिग के माध्यम से होगी सुनवाई
 माननीय जनपद न्यायाधीश श्री राम अचल यादव जी के दिशा निर्देशन में सचिव श्रीमती आरती द्विवेदी ने बताया कि न्यायालय के आदेशानुसार अर्जेन्ट मामलों की सुनवाई विडियो कान्फ्रेन्सिग के माध्यम से की जायेगी। माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद द्वारा ग्रीन, आरेन्ज एवं रेड जोन के अन्तर्गत आने वाले जनपदों में भिन्न भिन्न शर्तों के अधीन वीडियो कान्फे्रन्सिग, वर्चुअल हेयरिंग के माध्यम से न्यायालय सत्र न्यायाधीश, विशेष क्षेत्राधिकार वाले न्यायालय जैसे कि एस0सी0/एस0टी0, गैग्गेस्टर एक्ट, पाक्सों एक्ट, एन0डी0पी0एस0 एक्त, डकैती एवं मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के न्यायालय, सिविल जज सी0डि0, सिविल जज जू0डि0, सिविल जज जू0डि0 वाह्य न्यायालय हैदरगढ़ को संचालित किये जाने का निर्णय 21 मई में लिया गया है। वर्तमान में बाराबंकी जनपद आरेन्ज जोन के अन्तर्गत है। लाक डाउन की अवधि में अधिवक्तागण और वादकारियों की सुविधा के लिए जमानत, अग्रिम जमानत हेतु प्रार्थना पत्र व रिमाण्ड कार्य, विवेचक के आवेदन पत्र अन्तर्गत धारा-72/82  व 83 सी0आर0पी0सी0, 164 सी0आर0पी0सी0 की सुनवाई हेतु ईमेल आई0डी0-bailbbkdc@gmail.com  पर मेल कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त हेल्पलाइन नम्बर लैण्डलाइन नं0-05248-222213 व मोबाइल हेल्पलाइन नम्बर-8299510353 का सृजन किया गया है। जमानत प्रार्थना पत्रों के साथ अधिवक्ता, वादकारी का मोबाइल नम्बर दिया जाना अनिवार्य है। जिन प्रार्थना पत्रों में कोई त्रुटि पाई जाती है, ऐसे प्रार्थना पत्रों की सुनवाई की तिथि 48 घण्टें में नियत कर संबंधित अधिवक्ता को सूचित किया जायेगा। सामाजिक दूरी बनाये रखने के उद्देश्य से अर्जेन्ट मामलों की सुनवाई हेतु दीवानी न्यायालय परिसर में पृथक कक्ष न्यायालय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश न्यायालय संख्या-1 के न्यायालय कक्ष को प्रथम वर्चुअल कोर्ट के रूप में स्थापित किया गया है। इसी क्रम में पारिवारिक न्यायालय, सिविल जज सी0डि0 एवं सिविल जज जू0डि0 न्यायालयों के लिए न्यायालय सिविल जज सी0डि0 कोर्ट संख्या-20 को द्वितीय वर्चुअल कोर्ट के रूप में स्थापित किया गया है जिसमें विडियो कान्फ्रेन्सिग के जरिये पीठासीन अधिकारी के समक्ष सुनवाई की जायेगी। वादकारियों का न्यायालय परिसर में प्रवेश अनुमन्य नहीं होगा। अर्जेन्ट मामलों के अतिरिक्त अन्य मामलों व वादों में पीठासीन अधिकारी द्वारा सामान्य तिथि नियत की जायेगी। वर्चुअल कोर्ट का कक्ष व स्थान आदि की सम्पूर्ण जानकारी जिला न्यायालय बाराबंकी की आधिकारिक वेवसाइट पर उपलब्ध है। उक्त जानकारी प्रत्येक कार्य दिवस पर प्रातः 10ः00 बजे से सायंकाल 5ः00 बजे तक प्राप्त की जा सकती है। यह भी उल्लेखनीय है कि कोर्ट खुलने से पूर्व सम्पूर्ण न्यायालय परिसर व कोर्ट रूम को जन स्वास्थ्य के मद्देनजर रखते हुए सेनेटाइज कराने का निर्देश सर्व संबंधित को दिया गया है।