1985 से लंबित हैं कोतवाली नगर में माल मुकदमा
November 21, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

बाराबंकी: अपर पुलिस अधीक्षक आरएस गौतम ने कोतवाली नगर का निरीक्षण किया। दो दिन तक चले उनके निरीक्षण में कुछ खामियां भी सामने आईं। कोतवाली में करीब दो हजार माल मुकदमा लंबित हैं जिनमें 34 साल पुराने माल लंबित पड़े हैं। वहीं अनुशासन के दृष्टिगत कोतवाली पुलिस की उन्होंने सराहना की। गारद सलामी के लिए अतिरिक्त निरीक्षक महेंद्र सिंह को नकद पुरस्कार देने की भी घोषणा की है।

एएसपी ने बताया कि मंगलवार और बुधवार दो दिन तक उन्होंने कोतवाली नगर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान शस्त्रगार में रखे शस्त्र का रखरखाव ठीक नहीं पाया गया। स्वचालित शस्त्रों की सफाई के लिए आरमोर्रर को बुलाकर सफाई होने तक लगे रहने के निर्देश दिए। वहीं थाना क्षेत्र में गैर जनपद के पकड़े गए हिस्ट्रीशीटर व संदिग्धों की संबंधित जिले से तस्दीक कराने की कार्रवाई भी ठीक नहीं मिली। मालखाने के निरीक्षण के दौरान 1985 से लंबित कुछ मामले पाए गए। उन्होंने बताया कि कोतवाली में करीब दो हजार माल मुकदमा निस्तारण के लिए लंबित हैं। इसके लिए उन्होंने प्रतिदिन अभियान चलाकर निस्तारण के निर्देश दिए हैं। वहीं वाहनों की नीलामी कराने की भी बात कही है। इसके अलावा सिपाहियों की बीट बुक चेक कर देखा गया कि सिपाही क्या कर रहे हैं?

निरीक्षण के बाद सिपाही व कर्मचारियों के साथ सम्मेलन में एएसपी ने तनाव प्रबंधन संबंधित बातें बताईं। उन्होंने बताया कि तनाव को दूर करने के लिए सुबह पांच से छह सप्ताह में तीन बार अलग-अलग विषयों पर विशेषज्ञ क्लास लेंगे जिसमें योग आदि शामिल है। इस दौरान सिटीजन एक्ट के तहत अपने थाना क्षेत्र में रहने वाले बुजुर्ग लोगों का विवरण एकत्र करना व उनसे संपर्क बनाए रखने की भी हिदायत दी गई। उन्होंने बताया कि ओवरआल निरीक्षण संतोषजनक रहा। खामियों को दूर करने के निर्देश दिए हैं।

एएसपी उत्तरी के निरीक्षण में सामने आए तथ्य, दो दिन तक हुआ कोतवाली नगर का निरीक्षण