‘दिव्यांग बच्चों में होती है दिव्य प्रतिभा’
September 26, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

मुख्यमंत्री आवास पर हुआ भावनाओं का दिव्य संवाद, चहकते बच्चे और मुस्कुराते योगी

राज्य ब्यूरो, लखनऊ : 'कॉक्लियर इम्प्लांट लाभार्थी श्रवणबाधित बच्चों से मुख्यमंत्री का संवाद..।' मगर, यह संवाद सुनने नहीं, बल्कि देखने और महसूस करने का था। सरकार की मदद से कॉक्लियर इम्प्लांट होने के बाद स्पीचथैरेपी से बोलना सीख रहे बच्चे यहां भी कुछ बोलने की कोशिश करते हुए चहक रहे थे, इधर-उधर भाग रहे। आनंदित होते उनके गरीब अभिभावक और देख-देख मुस्कुराते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ..। यूं पूरा हो रहा था भावनाओं का संवाद।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर बुधवार को मुख्यमंत्री के कालिदास मार्ग स्थित सरकारी आवास पर श्रवणबाधित बच्चे और उनके अभिभावक बुलाए। इनमें वह 10 बच्चे और उनके परिजन भी थे, जो दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग की कॉक्लियर इम्प्लांट योजना के लाभार्थी हैं। कॉक्लियर इम्प्लांट छह लाख रुपये में होता है, जो कराना इन परिवारों के लिए आसान न था। सरकार ने अपनी योजना से इस खामोशी बचपन को जुबां दी है। पिछले वित्तीय वर्ष में तीन से सात वर्ष की उम्र के 20 बच्चे चयनित हुए थे, जिनमें से 11 की सर्जरी हो चुकी है। अगले वर्ष के 59 बच्चों का चयन हुआ है।

कार्यक्रम में आए बच्चों को शिक्षण सामग्री भेंट करने के बाद मुख्यमंत्री ने ऋषि अष्टावक्र, सूरदास, स्वामी रामभद्राचार्य से लेकर वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिन्स का उदाहरण दिया।

कहा कि दिव्यांग बच्चों में ऐसी ही दिव्य प्रतिभा होती है। उन्हें संबल और प्रोत्साहन दिया जाए तो उनकी प्रतिभा का लाभ परिवार ही नहीं, देश को मिल सकता है। योगी ने दिव्यांग और कुष्ठ रोगियों के लिए चलाई जा रही अन्य योजनाओं का भी जिक्र किया। इसके साथ सभी बच्चों को मंच पर बुलाकर उनके साथ फोटो भी खिंचवाया। कार्यक्रम में दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के मंत्री अनिल राजभर और अपर मुख्य सचिव महेश कुमार गुप्ता भी उपस्थित थे।

 

श्रमिकों को बोर्ड की योजनाओं का लाभ दिलाएं जनप्रतिनिधि: मुख्यमंत्री

 

राज्य ब्यूरो, लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनप्रतिनिधियों को पत्र लिखकर अपील की है कि वे उप्र भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण (बीओसीडब्लू) बोर्ड में निर्माण श्रमिकों का पंजीकरण कराने में सहयोग दें। साथ ही, उन्हें बोर्ड की विभिन्न हितकारी योजनाओं का लाभ दिलवाएं। प्रदेश के सभी मेयर, जिला पंचायत अध्यक्षों, ब्लॉक प्रमुखों, नगर पालिका/नगर पंचायत अध्यक्षों व ग्राम प्रधानों को बुधवार को लिखे गए पत्र में योगी ने कहा है कि श्रम विभाग के अंतर्गत संचालित बीओसीडब्लू बोर्ड की ओर से संचालित योजनाएं निर्माण श्रमिकों और उनके परिवारों की तरक्की के लिहाज से अत्यंत महत्वपूर्ण हैं।

पंडित दीन दयाल उपाध्याय का सपना हुआ साकार: योगी

 

जागरण संवाददाता, लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समाज के अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति को शासन की योजनाओं का लाभ मिला है। यही पंडित दीन दयाल उपाध्याय का सपना था। पीएम मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र और प्रदेश सरकार ने आज उनके इस सपने को साकार कर दिया है। पंडितजी की 103वीं जयंती पर उनके लिए यह सबसे बड़ी श्रद्धांजलि है। बुधवार को यहां आयोजित कार्यक्रम में योगी ने पंडित दीन दयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की। इसके बाद कहा कि पिछले पांच वर्षो में जो कार्ययोजनाएं बनीं, हर गरीब को उसका लाभ मिल रहा है। जाति-धर्म और मजहब से हटकर सरकार काम कर रही है। यही पंडितजी के लिए सच्ची श्रद्धांजलि है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि हमारी सरकार समाज के शोषित लोगों की मदद कर रही है।

'>>साजदा पुत्री फैय्याज अंसारी, लखनऊ

 

'>>माजदा पुत्री फैय्याज अंसारी, लखनऊ

 

'>>आसिफा पुत्री हसीब खान, लखनऊ

 

'>>कैफरीन पुत्री हसीब खान, लखनऊ

 

'>>आदिल पुत्र नसीर अहमद, लखनऊ

 

'>>हर्षित पुत्र अनिल यादव, लखनऊ

 

'>>अदनान पुत्र मो. मतीन, लखनऊ

 

'>>सदफ फातिमा पुत्री मो. शरीफ, लखनऊ

 

'>>सिद्धार्थ पुत्र भरत लाल पाठक, लखनऊ

 

'>>मानवी पुत्री मनोज पांडेय, कानपुर

यह लाभार्थी हुए शामिल

      • सीएम योगी ने कॉक्लियर इम्प्लांट लाभार्थियों को भेंट की शिक्षण सामग्री