लेखपाल व सेक्रेटरी गांव में सुनेंगे समस्या
August 10, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

संवादसूत्र, बाराबंकी : गांव में तैनात ग्राम पंचायत अधिकारी (सेक्रेटरी) और लेखपाल अक्सर ढूंढ़े नहीं मिलते। इससे समस्याओं का निदान नहीं हो पाता। इस समस्या के निदान के लिए जिलाधिकारी ने सभी खंड विकास अधिकारियों और उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह लेखपाल व सेक्रेटरी का राजस्व गांववार एक रोस्टर 10 दिन के अंदर तैयार करें।

रोस्टर में दोनों का गांवों में 10 से 12 बजे तक बैठने का दिन और तिथि निर्धारित की जाएगी। इससे गांव स्तरीय समस्याओं के लिए ग्रामीणों को ब्लॉक व तहसील के साथ ही जिला मुख्यालय पर भागदौड़ नहीं करनी पड़ेगी। का कहना है कि अक्सर ऐसी समस्याएं जिला मुख्यालय तक लोग लेकर आते हैं जिनका गांव में ही आसानी से निदान हो सकता है। जब ग्राम पंचायत अधिकारी व लेखपाल एक साथ गांव में बैठेंगे तो शिकायतों की संख्या भी घटेगी। लोग बेवजह की भागदौड़ से भी मुक्ति पाएंगे।