मिलावटी शराब से अब तक 21 की मौत, 73 लोग अस्पतालों में भर्ती
May 30, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

आबकारी निरीक्षक गिरफ्तार पुलिस ने ठेके के अनुज्ञापी समेत पांच अन्य को पकड़ा

जेएनएन लखनऊ : रामनगर क्षेत्र में मिलावटी शराब पीने से मरने वालों की संख्या अब 21 हो गई, जबकि प्रशासन ने अब तक 17 मौतों की ही पुष्टि की है। 73 बीमार हैं जिनका इलाज बाराबंकी जिला चिकित्सालय व लखनऊ के चिकित्सालयों में हो रहा है। वहीं पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। शासन के सख्त निर्देशों के बाद पुलिस ने जहरीली शराबकांड में निलंबित किये गये बाराबंकी के आबकारी निरीक्षक रामतीरथ मौर्य को भी गिरफ्तार कर लिया है। शुरुआती जांच में आबकारी निरीक्षक की शराबकांड के आरोपितों से संलिप्तता सामने आई है।

बुधवार को मरने वालों में ओमकार (40) निवासी ग्राम महार, विजय बहादुर (28) निवासी ग्राम पिपरी, माधव राम शुक्ल (45) निवासी ग्राम पिपरी व प्रेमचंद्र (30) निवासी ग्राम पृथ्वी पुरवा मजरे अमराई गांव थाना रामनगर की मौत हो गई। इनमें से ओमकार की मौत सुबह छह बजे सीएचसी सूरतगंज से जिला चिकित्सालय लाते समय हो गई। अन्य की मौत लखनऊ में हुई। एसडीएम सदर अभय कुमार पांडे के मुताबिक शाम छह बजे तक जिला चिकित्सालय में 22, केजीएमयू ट्रामा सेंटर में 44, बलरामपुर चिकित्सालय में आठ व डॉ. लोहिया चिकित्सालय में एक मरीज भर्ती हैं।

भुंड स्थित ठेके से शराब खरीदकर पीने वाले 13 नए मरीज बुधवार को जिला चिकित्सालय आए। इनमें से छह को गंभीर हालत के चलते ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया, जबकि सात लोगों को भर्ती कर इलाज किया जा रहा है।

आइजी कानून-व्यवस्था प्रवीण कुमार ने बताया कि आबकारी निरीक्षक लगातार आरोपितों के संपर्क में थे। अब तक जहरीली शराब कांड के पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया है। मंगलवार को सेल्समैन सुनील के अलावा शिवम व पीतांबर को पकड़ा गया था। बुधवार को पुलिस ने आरोपित पप्पू को मुठभेड़ के दौरान पकड़ा। पप्पू के पैर में गोली लगी है। पुलिस ने शराब ठेके के अनुज्ञापी दानवीर को भी गिरफ्तार कर लिया है।

10 की आंखों की रोशनी खत्म

केजीएमयू ट्रॉमा सेंटर के प्रवक्ता डॉ. संदीप तिवारी के अनुसार सेंटर में भर्ती मरीजों में 10 की आंखों की रोशनी खत्म, आठ का किडनी फंक्शन गड़बड़ और 11 मरीजों के कई अंग काम नहीं कर रहे हैं। उन्हें क्रिटिकल केयर यूनिट में वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है। लोहिया अस्पताल के निदेशक डॉ. डीएस नेगी ने एक मरीज को वेंटिलेटर पर बताया। डॉ. संदीप तिवारी के मुताबिक शराब में मिथाइल एल्कोहल होने की आशंका है।

जिला अस्पताल लगा गया पुलिस मुठभेड़ में जख्मी पप्पू जायसवाल ' जागरण

'>>जिला चिकित्सालय में 22, ट्रामा में 44 व लोहिया में एक व बलरामपुर में आठ भर्ती

>>जिला प्रशासन ने 17 मौतों की पुष्टि की जिला चिकित्सालय में आए 13 नए मरीज

जागरण संवाददाता, सीतापुर : महमूदाबाद कोतवाली क्षेत्र के गांव सेजौरा निवासी सुमेरी लाल (40) व सैदनपुर निवासी विनोद कुमार (36) की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। परिवारजन का कहना है कि जहरीली शराब पीने की वजह से उनकी मौत हुई है। सूचना मिलते ही एसडीएम अमित कुमार पुलिस बल के साथ गांव पहुंचे। सैदनपुर गांव पहुंचने पर वहां चंद्रशेखर (35), संतराम (30), विपिन (25) व विजय (40) बीमार मिले। उन्होंने बताया कि उन्होंने जैनी वार्ड निवासी कन्हैयालाल के यहां से शराब लेकर पी थी, जिसके बाद से उनकी हालत बिगड़ी है। हालांकि एएसपी एमपी सिंह का कहना है कि बीमारी की वजह से दोनों मौतें हुईं हैं।सीतापुर में शराब पीने के बाद बिगड़ी हालत, दो की मौत