बिजली दरों में बढ़ोतरी के खिलाफ भाकियू का प्रदर्शन
June 28, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

वादसूत्र, बाराबंकी : भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट के कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को बिजली की बढ़ी दरों के खिलाफ तहसील मुख्यालयों पर प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन से पहले नागेश्वर नाथ मंदिर परिसर पर भाकियू कार्यकर्ता एकत्र हुए। वहां से जुलूस के रूप में शहर के अंदर से होते हुए तहसील परिसर में पहुंचे। तहसीलदार ने ज्ञापन लेकर मुख्यमंत्री तक पहुंचाने का आश्वासन दिया।

ज्ञापन में कहा गया है कि विद्युत नियामक आयोग की प्रस्तावित बढ़ी दरों को स्वीकृति न दी जाएगी। गैर पंजीकृत किसानों को भी 31 जुलाई तक दी जाने वाली छूट में शामिल किया जाए। गन्ना मूल्य का बकाया भुगतान किए जाने के साथ ही गन्ना आयुक्त को ब्याज माफ करने वाली शक्तियों को समाप्त किया जाए। निजी नलकूपों के बिजली कनेक्शन के लिए 300 के स्थान पर 190 मीटर कर दी गई। इससे किसानों पर अत्यधिक भार पड़ रहा है।

आलू का समर्थन मूल्य 12 सौ रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित करने, पशुपालक किसानों को भी क्रेडिट कार्ड वितरित करने, पशुओं से किसानों की जमीन को बचाने, पुराने ट्रैक्टरों के संचालन को बहाल करने, किसानों को पेंशन, किसानों पर आंदोलन के दौरान दर्ज हुए मुकदमें वापस लेने आदि मांगें शामिल है।

ज्ञापन देने वालों में वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष राम किशोर पटेल, जिलाध्यक्ष अनिल वर्मा, तहसील नवाबगंज अध्यक्ष राम सेवक रावत, सतीश वर्मा आदि शामिल रहे। हैदरगढ़ तहसील में नायब तहसीलदार अजय यादव को भाकियू तहसील अध्यक्ष अशोक सिंह, ब्लॉक अध्यक्ष हरीराम ने कार्यकर्ताओं के साथ प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया।

 

सरकार द्वारा प्रस्तावित बढ़ी बिजली दर के विरोध में रैली निकालकर डीएम कार्यालय का घेराव करने जाते व प्रदर्शन करते भाकियू कार्यकर्ता 'जागरण