फिर गिरी कच्ची दीवार, वृद्ध की मौत
October 1, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

गरण टीम, बाराबंकी : हैदरगढ़ क्षेत्र में सोमवार को दीवार गिरने से वृद्ध की मौत हो गई। वहीं तीन घर गिरे, जिसमें तीन लोग घायल हुए हैं। बीते पांच दिनों से हो रही बारिश से अब तक आठ लोगों की मौत कच्चे घर गिरने से हो चुकी है। आर्थिक सहायता के नाम पर तहसील प्रशासन इन पीड़ितों के साथ खिलवाड़ भी रहा है। बारिश से धान की फसल को सबसे अधिक नुकसान हुआ, तो शहरों और कस्बों में जलभराव से लोग परेशान दिखे।

हैदरगढ़ : कोतवाली क्षेत्र के ग्राम बारीखेर मजरे अंसारी में सोमवार को सुबह नौ बजे इसी गांव के मक्कू गौतम की कच्ची दीवार अचानक गिर गई। इसी बीच उसका पड़ोसी शारदा (55) पुत्र स्व. केतार चपेट में आ जाने से मलबा में दब गया। शोरगुल होने पर दौड़े ग्रामवासियों ने घायल अवस्था में निकालकर आनन-फानन सीएचसी ले गए। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

दरियाबाद : क्षेत्र के ग्राम कोटवा मजरे श्यामनगर निवासी रामावती पत्नी स्व. रामबरन का घर भी बारिश में ढह गया। पूरे मिश्री के सत्यनाम को भी आवास नहीं मिला। बारिश के कारण गिरी छत में इनके बेटे की मौत हुई। सत्यनाम घायल हो गए। मथुरानगर में भी यही हाल है।

सतरिख : क्षेत्र के गाल्हामऊ गांव निवासी हरी कश्यप का मकान बरसात के चलते रविवार की रात में ढह गया। इसके मलबे में दबकर हरि जख्मी हो गए। पोखरा : हैदरगढ़ कस्बे स्थित सीएचसी व उपनिबंधक कार्यालय परिसर में वर्षा का पानी भरा हुआ है। इसकी जलनिकासी का अभी तक कोई इंतजाम नहीं किया जा रहा है।