छापा मारकर बरामद की तीन सौ लीटर कच्ची शराब
September 30, 2019 • बाराबंकी टाइम्स

संवादसूत्र, बाराबंकी : फतेहपुर तहसील क्षेत्र में रविवार को कच्ची शराब के खिलाफ सघन अभियान चलाया गया। एसडीएम फतेहपुर व स्थानीय पुलिस के साथ आबकारी निरीक्षक ने टीम के साथ कुर्सी थाना क्षेत्र के एक व मोहम्मदपुरखाला थाना क्षेत्र के दो गांव में दबिश दी। इस कार्रवाई में कुल 300 लीटर कच्ची शराब, 15 ¨क्वटल लहन व सात भट्टियां बरामद कर दस लोगों को गिरफ्तार किया है।

जिला आबकारी अधिकारी राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि एसडीएम फतेहपुर पंकज सिंह के साथ आबकारी निरीक्षक ओपी मिश्र ने कुर्सी थाने के एसआइ कमलेश प्रजापति ने ग्राम बेहड़पुरवा में दबिश दी। यहां टीम ने चार भट्ठियों को नष्ट किया। चार लोगों को गिरफ्तार कर दो सौ लीटर कच्ची शराब और दस ¨क्वटल लहन बरामद कर मुकदमा दर्ज किया गया।

बेलहरा : मोहम्मदपुरखाला थाना क्षेत्र में एसओ मनोज शर्मा के साथ आबकारी निरीक्षक राजनाथ यादव ने टीम के साथ ग्राम गोड़ियनपुरवा एवं भीखमपुर में दबिश दी। गोड़ियनपुरवा में चार ¨क्वटल लहन, 80 लीटर कच्ची शराब सहित पांच आरोपितों नरपत, लल्लू, चेतराम, प्रताप व पुत्तू को गिरफ्तार किया। मौके पर मिली दो भट्ठियों को भी नष्ट किया गया। वहीं ग्राम भीखमपुर में बीस लीटर कच्ची शराब, एक ¨क्वटल लहन व एक भट्ठी सहित एक आरोपित को गिरफ्तार किया। जिला आबकारी अधिकारी ने बताया कि भट्ठियों और लहन को मौके पर नष्ट कर दिया गया है।

थाने से दो किमी पर चल रहा अवैध कारोबार : कुर्सी थाना क्षेत्र का बेहड़पुरवा जिले में शराब के अवैध कारोबार के लिए कुख्यात है। थाने से महज दो किलोमीटर की दूरी पर हर घर में धधकती भट्ठियों की गंध स्थानीय पुलिस कर्मियों और प्रशासन को सिर्फ उच्चाधिकारियों के आदेश पर चलाए जाने वाले अभियान के दौरान ही आती है।

जबकि, गांव वालों को विकास की मुख्यधारा से जोड़ने की प्रशासनिक पहल कुछ दिन चलने के बाद थम जाती है। रानीगंज कांड के बाद तहसील प्रशासन ने गांव का सर्वे कराने की पहल की थी। इसके तहत लोगों को जागरूक करने और रोजगार भी दिलाया जाना था। लेकिन, यह दोनों कार्य नहीं हो सके।